शिक्षक दिवस : एक दिन हमारे शिक्षकों के नाम

आज 5 सितम्बर का दिन है और आज पूरा हिंदुस्तान इस दिन को शिक्षक दिवस के रूप में मानता है। और ये बात लगभग सभी लोग जानते ही है की ये दिन हमारे डॉ. सर्वेपल्ली राधाकृष्णन के जन्मदिन के रूप में मनाया जाता है। उनके बारे में अब मैं क्या कहूँ मैंने उन्हें कभी नहीं देखा और न ही मिला हूँ। पर आज मैं तो क्या हर कोई उनके बारे में जनता जरूर है और ये हुआ भी है तो सिर्फ हमारे शिक्षकों की वजह से ही।

पढना जारी रखे

Advertisements

फ्रेंड्शिप डे : यानी दोस्तों का दिन

फ्रेंड्शिप डे, एक ऐसा दिन जो पूरी तरह से दोस्तों को समर्पित है। इसका चलन दक्षिणी अमेरिका से शुरू हुआ और आज यह लगभग पूरे विश्व में अगस्त महीने के पहले इतवार को मनाया जाता है। हालांकि मुझे इस दिन में कोई खास दिलचस्पी नहीं है क्योंकि दोस्तों के लिए तो मेरा हर दिन ही एक फ्रेंड्शिप डे है। मैंने आज का ये दिन अपने एक दोस्त, चन्दन के साथ इको पार्क में मनाया।

पढना जारी रखे

अँधेरा : उजाले के बाद की सच्चाई

आज दफ्तर में बड़ा ही अजीब सा माहौल था। हमारे एक साथी का जन्मदिन मनाया गया और वही दूसरे साथी की विदाई समारोह। मैं थोड़ा परेशान था, क्योंकि मैं यह तय ही नहीं कर पा रहा था की अपने उस साथी की विदाई पर मैं दुःखी होउ या फिर खुश। दुःख इस बात का था की अब हम साथ काम नहीं कर पाएंगे और खुशी इस बात की थी की वह अब अपने रास्ते पर आगे बढ़ चुका था। तरक्की और ऊँचाइयाँ उसका स्वागत करने के लिए बाहें फैलाई खड़ी हैं। भगवान करें वह जहां भी जाये तरक्की करें और सफलता हासिल करें और मुझे यकीन है वह करेगा।

पढना जारी रखे